कौन से चीज़ अमीरों को अमीर बनाती है ? – 2

“बिजली के नेटवर्क के बिना बिजली का बल्ब लोगों के लिए बहुत कम फायदेमंद होता,” मैंने कहा ।
“अब यह विचार तुम्हारी समझ में आ रहा है,” अमीर डेडी मुस्कुराये । “तो अमीरों को जो चीज़ अमीर बनाती है वह यह कि वे अपना सिस्टम….. अपना नेटवर्क बनाते है और वे उसके स्वामी होते है।  नेटवर्क के स्वामी होने के कारण वे अमीर बनते है।”

 

“नेटवर्क ? तो अगर में अमीर बनना चाहता हूँ तो मुझे यह सीखना पड़ेगा कि किस तरह बिज़नस नेटवर्क बनाया जाए ?” मैंने पूछा ।
“अब बात तुम्हारी समझा में आ रही है,” अमीर डेडी ने कहा । “अमीर बनने के लिए और भी बहुत से तरीके है, परन्तु बेहद अमीर लोगो ने हमेशा नेटवर्क बनाए है । यह देखो कि जॉन डी. रोकफेलर किस तरह दुनिया के सबसे अमीर आदमियों में से एक बने । उन्होंने तेल की सिर्फ ड्रिलिंग ही नहीं की । जॉन डी. रोकफेलर दुनिया के सबसे अमीर आदमियों में से एक इसलिए बने क्योंकि उन्होंने पेट्रोल पम्पों, डिलीवरी ट्रकों, जहाज़ों और पाइपलइनों का नेटवर्क बनाया । वे अपने नेटवर्क के द्वारा इतने अमीर और शक्तिशाली बन गए की अमेरिकी सरकार ने मोनोपोली कहकर उन्हें अपना नेटवर्क तोड़ने के लिए विवश कर दिया ।”

 

“और, अलेक्जेंडर ग्रैहम बेल ने टेलीफोन का अविष्कार किया जो अंतत ए टी एंड टी नाम के टेलीफोन नेटवर्क में बदल गया।” मैंने कहा ।
अमीर डेडी ने सर हिलाया । “और बाद में रेडिओ नेटवर्क आये और फिर टेलीविज़न नेटवर्क आये । हर बार जब कोई नया आविष्कार आता था तो वही लोग अमीर बनते थे जो उस नए आविष्कार के समर्थन का नेटवर्क बनाते थे और उस नेटवर्क के स्वामी होते थे । कई ऊँची आमदनी वाले स्टार और एथलीट सिर्फ इसलिए अमीर है क्योकि रेडिओ और टेलीविज़न नेटवर्क उन्हें अमीर और प्रसिद्ध बनाते है।”
“तो फिर हमारा स्कूल सिस्टम नेटवर्क बनाना क्यों नहीं सिखाता ?” मैंने पूछा ।
अमीर डेडी ने अपने कंधे उचकाये । “मैं नहीं जानता, “उनका जवाब था । “मैं सोचता हूँ इसलिए क्योंकि ज्यादातर लोग किसी बढे नेटवर्क के कर्मचारी के रूप में नौकरी करने में ही खुश रहते है…. वह नेटवर्क जो अमीरों को और अधिक अमीर बनाता है । में अमीरों के लिए काम नहीं करना चाहता थे । इस्ल्ये मैंने अपना खुद का नेटवर्क बनाया । अपने बिज़नस जीवन की शुरुआत में मैं ज्यादा पैसा नहीं कमा पाया, क्योंकि नेटवर्क बनने में समय लगता है । 5 साल तक मेरी कमाई अपने साथियों से बहुत कम थी । बहरहाल 10 साल बाद मैं अपने ज्यादातर सहपाठियों से ज्यादा अमीर था, उनसे भी ज्यादा जो डॉक्टर और वकील बन गए थे । आज में इतना ज्यादा कमा रहा हूँ जितना कमाने की कल्पना वे सपने में भी नहीं कर सकते । एक अच्छी तरह से डिजाईन किया गया और मैनेज किया गया बिज़नस नेटवर्क हमेशा एक कड़ी मेहनत करने वाले व्यक्ति से बहुत अधिक धन कम सकता है ।”

 

अमीर डेडी ने मुहे समझाया कि इतिहास ऐसे अमीर और प्रसिद्ध लोगो की कहानियों से भरा पड़ा है जिन्होंने नेटवर्क बनाए । जब ट्रेनों का आविष्कार हुआ तो कई लोग अमीर बने । यही हवाई जहाज़ों, पानी के जहाज़ों, कारों और वाल्मार्ट, द गेप और रेडिओ शेक जैसे रिटेल स्टोर्स के साथ हुआ । आज की दुनिया में सुपर कंप्यूटर और कंप्यूटर की शक्ति कई व्यक्तयों को ढेर सारी दौलत कमाने की शक्ति प्रदान करती है बशर्ते वे अपना खुद का नेटवर्क बनाने में लिए मेहनत करें ।
आज हमारे बीच बिल गेट्स है जो दुनिया के सबसे अमीर आदमी है । वे आई बी एम के ऑपरेटिंग सिस्टम में प्लग करके अमीर बने । रेडिओ, टेलीविज़न और रिकॉर्ड स्टोर के नेटवर्क के कारण बीटल्स दुनिया भर में प्रसिद्ध हुए । टेलीविज़न और रेडिओ नेटवर्क की शक्ति के द्वारा खेल जगत के सितारे करोड़ो डॉलर्स कमाते है । इन्टरनेट ने, जो दुनिया भर में नवीनतम नेटवर्क है, कई लोगो को मिलिनेयर बना दिया है और कुछ लोगो को तो बिलिनेयर भी बना दिया है ।

अमीर और ज्यादा अमीर क्यों बनते है

हममे से अधिकांश ने यह कहावत सुनी होगी, “एक जैसे पंख वाले पक्षी इक्कठे उड़ते है ।” यह कहावत न सिर्फ पक्षियों के बाते में सही है, बल्कि यह अमीर लोगो, गरीन लोगो, और मिडिल क्लास लोगो के बारे में भी सही है । दूसरे शब्दों में, अमीर लोग अमीरों के साथ नेटवर्क बनाते है, गरीन लोग गरीबों के साथ नेटवर्क बनाते है और मिडिल क्लास लोग मिडिल क्लास लोगों के साथ नेटवर्क बनाते है । अमीर डेडी अक्सर कहते थे, “अगर आप अमीर बनना चाहते है तो आपको उन लोगो के साथ नेटवर्क बनाने की जरुरत है जो अमीर है या जो अमीर बनने में आपकी मदद कर सकते है ।” वे यह भी कहते थे, “कई लोग जिन्दगी भर ऐसे लोगों के साथ रहते है या ऐसे लोगों के साथ नेटवर्किंग करते है जो उन्हें आर्थिक रूप से पीछे रोके रखते है ।” यह लेख आपको यह विचार प्रदान करना चाहता है कि नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नस एक ऐसा बिज़नस है जिसमे ऐसे लोग है जो ज्यादा अमीर बनने में आपकी मदद करते है । आप खुद से यह सवाल पूछकर देखिये । “जिस कंपनी के लिए मैं काम करता हूँ और जिन लोगो के लिए मैं अपना समय देता हूँ क्या वे मुझे अमीर बनाने के लिए समर्पित है ? या, उन लोगो की और मेरी कंपनी की दिलचस्पी मुझसे सिर्फ कड़ी मेहनत कवने तक ही सीमित है ?”
15 साल की उम्र तक मैं यह जान गया था कि अमीर बनने और आर्थिक रूप से चिंतामुक्त होने का एक तरीक यह सीखना था कि किस तरह ऐसे लोगों के साथ नेटवर्क बनाया जाए जो अमीर बनने और आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने में मेरी मदद कर सकें । मेरे हिसाब से यह आदर्श समझदारी थी । परन्तु मेरे हाई स्कूल के कुछ सहपाठियों को इस बात में समझदारी दिखी कि अच्छे नंबर हासिल किये जाए और सुरक्षित नौकरी कर ली जाए । 15 साल की उम्र में मैंने यह फैसला कर लिया कि मैं उन दोस्तों से दोस्ती करना पसंद करूँगा जो अमीर बनने में मेरी मादा करना चाहते हो, ना की उन दोस्तों से जो मुझे अमीरों का वफादार कर्मचारी बनाये रखना चाहते हो । जब मैं अपने जीवन की तरफ पीछे पलटकर देखता हूँ तो में पाता हूँ की 15 साल की उम्र में मैंने जो फैसला किया था, वह जीवन बदलने वाला फैसला था । यह आसान फैसला नहीं था क्योंकि 15 वर्ष की उम्र में मुझे बहुत सावधान रहना पड़ता था कि मैं किनके साथ अपना समय गुजारूं और किन टीचर्स की बात सुनूँ । आपमें से जो लोग अपना बिज़नस बनाने के बारे में विचार कर रहे हो, उनके लिए इस बारे में जागरूक रहना बहुत महत्वपूर्ण है कि आप अपना समय किसके साथ बिताते है और आपके टीचर्स कौन है । हाई स्कूल में मैंने अपने मित्रों और टीचर्स को बहुत सावधानी से चुनना शुरू कर दिया था, क्योकि आपका परिवार, मित्र और टीचर्स आपके नेटवर्क के बहुत, बहुत, बहुत महत्वपूर्ण तत्व है ।

लोगो के लिए बिज़नस स्कूल

इस उद्योग में कई कंपनियों करोडो लोगो को वही बिज़नस शिक्षा प्रदान कर रही है जो मेरे अमीर डेडी ने मुझे सिखाई थी । यह कंपनियां लोगो को अपना खुद का नेटवर्क बनाने का अवसर दे रही है बजाय इसके कि लोग किसी और के नेटवर्क के लिए काम करने में अपनी जिन्दगी गुजार दें ।
अपना खुद का बिज़नस या नेटवर्क बनाने की शक्ति के बारे में लोगो को समझाना आसान काम नहीं है । यह इसलिए आसन नहीं है क्योंकि ज्यादातर लोगो को वफादार, मेहनती कर्मचारी बनना सिखाया गया है । उन्हें यह नहीं सिखाया गया है कि बिज़नस मालिक कैसे बना जाए, जो अपना खुद का नेटवर्क बनाते है ।
जब मैं वियतनाम से लौटा, जहाँ मैं अमेरिकी मेरीन कोर्प्स में ऑफिसर और हेलीकाप्टर पायलट थातो मैंने एम.बी.ए. की डिग्री के लिए फिर से कॉलेज जाने का विचार किया । मेरे अमीर डेडी ने मुझे ऐसे करने से रोका । उन्होंने कहा, “अगर तुम किसी पारम्पिक कॉलेज से एम.बी.ए. की डिग्री लोगे तो तुम्हे अमीरों के कर्मचारी बनने का प्रशिक्षण मिलेगा । अगर तुम अमीर बनना चाहते हो और अमीरों के अच्छी तनख्वाह वाले कर्मचारी नहीं बनना चाहते तो तुम्हे ऐसे बिज़नस स्कूल में जाना चाहिए जहाँ तुम्हे व्यवसायी बनने का प्रशिक्षण मिल सके । मैंने तुम्हे उसी तरह के बिज़नस स्कूल का प्रशिक्षण दिया है ।” अमीर डेडी या यह भी कहा, “ज्यादातर बिज़नस स्कूलों के साथ समस्या यह है कि वे सबसे बुद्धिमान युवकों को लेते है और उन्हें कर्मचारियों के एग्जीक्यूटिव बनने के बजाय अमीरों के बिज़नस एग्जीक्यूटिव बनने का प्रशिक्षण देते है ।” अगर आपने एनरोन और वर्ल्डकॉम की ख़बरों की ख़बरों को ध्यान से सुना हो तो आप जानते होंगे कि उच्च शिक्षित एग्जीक्यूटिव पर स्वार्थी होने के आरोप लेट है क्योंकि उन्होंने अपने कर्मचारियों और निवेशकों का ध्यान नहीं रखा जिन्होंने उन पर विशवास करके अपना जीवन और धन उन्हें सौंपा था । कई उच्च शिक्षित और ऊँची तन्ख्वास वाले एग्जीक्यूटिव अपने कर्मचारियों से कम्पनी का अधिक से अधिक स्टॉक खरीदने को कह रहे थे जबकि एग्जीक्यूटिव अपना खुद का स्टॉक बेच रहे थे । हालाँकि वर्ल्डकॉम और एनरोन जैसे मामले कम होते है, परन्तु इस तरह का स्वार्थपूर्ण व्यवहार बिज़नस की दुनिया और स्टॉक मार्किट में हर दिन होता है ।
मैं नेटवर्क मार्केटिंग उधोग का समर्थन एक और महत्वपूर्ण कारण से करता हूँ । वह कारण यह है कि इस उधोग में कई कंपनियों लोगो के लिए सचमुच बिज़नस स्कूल का काम करती है । परन्तु यहाँ पर स्मार्ट युवकों को लेकर उन्हें अमीरों के कर्मचारी बनने का प्रशिक्षण नहीं दिया जाता । कई नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियां सचमुच ऐसे बिज़नस स्कूल बन जाती है जहाँ ऐसे जीवनमूल्य सिखाये जाते है जो पारंपरिक बिज़नस स्कूलों में नहीं सिखाये जाते……जैसे यह कि अमीर बनने का सबसे अच्छा तरीका खुद को और दूसरे लोगो को बिज़नस मालिक बनना सिखाना है….. बजाय उन्हें यह सिखाने के कि अमीरों के लिए काम करने वाले वफादार कर्मचारी कैसे बना जाए ।

अमीर बनने के दूसरे तरीके

कई लोगो ने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नस बनाकर अथाह दौलत कमाई है है । दरअसल, मेरे कई सबसे अमीर दोस्तों ने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नस से अपनी दुआलत कमाई है । परन्तु सच कहा जाए तो ढेर साड़ी दौलत कमाने के और भी तरीके है । इसलिए अगली आगे की पोस्ट में हम उन तरीकों के बारे में विचार करेंगे जिनसे लोग अमीर बन सकते है और इससे भी अधिक महत्वपूर्ण बात यह है कि आर्थिक रूप से स्वतंत्र बन सकते है, …. जीवनयापन के लिए धन कमाने की चाकरी, नौकरी की सुरक्षा के जाल और एक तनख्वाह से दूसरी तनख्वाह तक गुजारा करने से मुक्ति हांसिल कर सकते है । अगली पोस्ट को पढने के बाद आपको इस बात का बेहतर अंदाजा हो जायगा कि क्या नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नस बनाना आपके लिए दौलत कमाने का सर्वश्रेष्ठ तरीका होगा…. क्या यह आपके सपनो और इच्छाओं को हांसिल करने का माध्यम हो सकता है ?

Leave a Reply