मार्केटिंग में सफलता के लिए टिप्स

मार्केटिंग के शेत्र में नौकरी की बहुत सारी संभावनाएं है, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि स्टूडेंट सही दिशा में आगे नहीं बढ़ पाते जिससे उन्हें जॉब मिलने में परेशानी का सामना करना पड़ता है | अगर आप भी मार्केटिंग में सफलता हांसिल करना चाहते है तो जाने इसलिए लिए कुछ टिप्स |
 
अब्राहम कोशी आई आई एम अहमदाबाद में बड़े प्रोफ़ेसर है | वे जाने मने विद्वान फिलिप कोत्लर के साथ मिलकर पुस्तक मार्केटिंग मेनेजमेंट और साउथ एशियाई पेर्पेक्टिव लिख चुके है | वह मानते है कि एम बी ए की मान्यता बढाने से स्टूडेंट को प्रोफेशनल योग्यता के साथ फील्ड वर्क पर भी जोर देना चाहिए |
 

मार्केटिंग में करियर के लिए स्टूडेंट को कैसी तेयारी करनी चाहिए ?

 
मार्केटिंग के अन्दर अलग अलग ब्रांड्स है | रिटेल में सेल्स फ़ोर्स और डिस्ट्रीब्यूटर का मेनेजमेंट अलग ब्रैंड है | इसी प्रकार ब्रैंड को स्थापित करना भी एक अलग ब्रैंड है, जिसे ब्रैंड मेनेजमेंट कहा जाता है | अगर आप सेल्स और डिस्ट्रीब्यूटर मेनेजमेंट को लें तो में समझता हु कि इसके लिए फील्ड का अच्छा अनुभव होना सबसे जरुरी है | अगर आपके पास एम बी ए की डिग्री नहीं है तब भी आप इस शेत्र में अच्छा काम कर सकते है | इस नज़रिए से एमबीए की डिग्री जरुरी योग्यता नहीं मानी जा सकती है | 
 

एमबीए की डिग्री से स्टूडेंट को क्या फायदा होता है ?

 
जब आप ब्रैंड के शेक्त्र में उतरते है को निश्चित रूप से एमबीए की डिग्री का फायदा होता है | इसी प्रकार एक उपभोक्ता की जरुरत समझने के लिए इस योग्यता का लाभ मिलता है | यहाँ आपकी डिग्री कई तरह से मददगार साबित होती है | हमेशा आपको एक फ्रेमवर्क की जरुरत पड़ती है एक समझ होने के बाद आपको फैसला करने में मदद मिलती है | आपको उपभोक्ता की परेशानी को स्पष्ट तरीके से व्यक्त करने की योग्यता रखने की जरुँत होती है और इस बात का अध्यन करने की जरुरत होती है कि कैसे मौके उपलब्ध है | ब्रैंड मेनेजमेंट, कम्युनिकेशन मेनेजमेंट और उपभोक्ता की जरुरत को समझें के शेत्रो में एमबीए की जरुरत पड़ती है |
 

क्या मार्केटिंग में सफलता के लिए एमबीए की डिग्री जरुरी है ?

 
एमबीए की पढाई  में स्टूडेंट को पूर्ण रूप से चुनौती पूर्ण करियर के लिए तेयार किया जाता है | आज अगर कोई भी स्टूडेंट कोई प्रोफेशनल कैरियर चाहता है और किसी आर्गेनाइजेशन या फिर कम्पनी को आगे जाने और उसका मेनेजमेंट सँभालने में इच्छा रखता है तो उसके लिए यह पढाई पहली अनिवार्यता है | 

Leave a Reply