2025 तक 1.8 करोड़ जॉब्स लायेगा डायरेक्ट सेलिंग क्षेत्र

ईकॉमर्स में तेज़ी और स्मार्ट फ़ोन के अत्यधिक इस्तेमाल ने डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों की ग्रोथ पर काफी असर डाला है | उल्लेखनीय है कि एमवे, तपरवेयर, ओरिफ्लेम, क्यूनेट, हर्बल लाइफ न्यूट्रीशन और अन्य डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों ने भारत में लगभग 50 लाख लोगो को रोजगार दिया है | फेडरेशन ऑफ़ इंडियन चैम्बर्स ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) और कंसल्टिंग कंपनी केपीमजी द्वारा की गयी जॉइंट स्टडी के अनुसार 2025 तक यह आंकड़ा 1.8 करोड़ तक पहुँच जायेगा | इसके अलावा इंडस्ट्री बॉडी असोमेच  के इसी साल के एक अध्ययन के अनुसार, 2021 तक डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री 15,930 करोड़ के आंकड़े को छू सकती है लेकिन इस ग्रोथ को बनाए रखने के लिए कुछ सुधारों कि भी जरुरत होगी | सर्वे में यह भी पाया गया है कि डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री ने 2011 से 2016 के बीच 12,620 करोड़ के आंकड़े तक पहुचने में लगभग डबल ग्रोथ की है | इस क्षेत्र में नेटवर्क मार्केटिंग में भी अच्छे अवसर है |

One comment

Leave a Reply