डायरेक्ट सेलिंग में बढ़ रहे है लोग

मार्केटिंग शब्द सुने ही हमारे दिमाग में एक भागदौड़ भरी नौकरी की छवि उभर कर सामने आती है | ऐसे में अगर सेल्स के शेक्त्र में कम भागदौड़ वाला कैरियर तलाशना हो, जिसमे अच्छा भविष्य हो तो ऐसा एक शेत्र है डायरेक्ट सेल (direct sale) | इंडियन डायरेक्ट सेलिंग एसोसिएशन भारत में डायरेक्ट सेलिंग उद्योग के लिए एक स्वायत्त, विनियामक संस्था है | यह संगठन उद्योग और सरकार के निति निर्माता निकायों के बीच तालमेल बनाने का काम करता है और देश में डायरेक्ट सेल के अंतर्गत आने वालो को उठता है | आज भारत में डायरेक्ट सेलिंग का उद्योग काफी तेज़ी से बढ़ रहा है |
साल 2008-09 में डायरेक्ट सेलिंग का उद्योग 17 प्रतिशत बढ़कर 33000 मिलियन रूपये का हो गया है | डायरेक्ट सेलिंग उद्योग में अलग अलग जगहों के योगदान के हिसाब से देखें तो दक्षिण भारत में डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों की सक्रियता सबसे ज्यादा पायी गई है और इसके बाद उत्तर भारत का स्थान है | डायरेक्ट सिलंग उद्योग की संभावनाओं का भरपूर लाभ उठाने और इसे पारदर्शी बनाने के मकसद से स्वायत्त संगठन इंडियन डायरेक्ट सेलिंग एसोसिएशन ने अर्नेस्ट एक यंग के सहयोग से भारत के डायरेक्ट सेलिंग बिज़नस पर आधारित वार्षिक 2008-09 नतीजे जारी किये | अगर सेल कंसलटेंट के हिसाब से देखें तो दुनियाभर के 25 प्रमुख देशों में भारत का 11वां स्थान है जबकि डायरेक्ट सेलिंग से मिलने वाले टैक्स की द्रष्टि से भारत क 23वां स्थान है |IDSA की सदस्य कंपनियों ने संगठित शेत्रो की ओर से भारत की आय में कु 18,840 मिलियन रूपये का योगदान किया | इसी के साथ-साथ सेः, पोषण, वेलनेस और सप्लीमेंट आदि डायरेक्ट सेलिंग उद्योग में प्रमुख उत्पाद श्रेणी के तौर पर उभरें है | डायरेक्ट सेलिंग बिज़नस अब सारे देश में पाँव पसार चूका है |

2 comments

  1. Aap direct selling me work karana chahate hai ya kar rahe hai ya kisi bhi prakar ki jankari ke liye aap hamase bat kar sakate hai. aap berojgar ho sakate lekin business na kar sake aisa nahi ho sakata hai.
    9506885746
    Sunil (U.P.)

  2. Aap direct selling me work karana chahate hai ya kar rahe hai ya kisi bhi prakar ki jankari ke liye aap hamase bat kar sakate hai. aap berojgar ho sakate lekin business na kar sake aisa nahi ho sakata hai.
    9506885746
    Sunil (U.P.)

Leave a Reply